केजरीवाल ने AAP कार्यकर्ताओं से कहा- पार्टी मेरी है, जिसे जाना है वो जाए, मुझे परवाह नही है: अलका लांबा

By Pradesh Times Sunday, June 09 19 12:00:00

केजरीवाल ने AAP कार्यकर्ताओं से कहा- पार्टी मेरी है, जिसे जाना है वो जाए, मुझे परवाह नही है: अलका लांबा

आम आदमी पार्टी की चांदनी चौक से विधायक अलका लाम्बा ने शनिवार को दावा किया कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उनके क्षेत्र के पार्टी कार्यकर्ताओं से उनके (अलका) और पार्टी में से किसी एक को चुनने को कहा है।

नई दिल्ली:  चांदनी चौक से आम आदमी पार्टी की विधायक अलका लांबा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को लेकर एक बार फिर ट्वीट किया है। लांबा ने केजरीवाल पर पार्टी को बांटने का आरोप लगाया। सोशल मीडिया पर सक्रिय रहने वाली अलका लांबा ने केजरीवाल पर आरोप लगाया कि ‘वह ऐसे समय में पार्टी को बांट रहे हैं, जब उसे एकजुट रहना चाहिए।’

विधायक लांबा ने ट्वीट करते हुए हुए कहा, ‘दिल्ली के मुख्यमंत्री,पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल जी ने अपने घर पार्टी कार्यकर्ताओं की मीटिंग में चाँदनी चौक विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं के सामने एक विकल्प चुनने का प्रस्ताव रखा-"अब आप सभी पार्टी और मुझे चुने या फिर विधायक अलका लाम्बा को"। सब वही जो हर बार होता आया है।’ 

अपने एक ट्वीट में लांबा ने कहा, 'जो ज़मीनी कार्यकर्ता इन चुनौतियों के दौरे में पार्टी को एक और मजबूत देखना चाहते हैं, उन्होंने जब पार्टी मुखिया केजरीवाल जी से सबको पार्टी में वापस जोड़ने की बात रखी तो वही हर बार की तरह घिसा पीटा जवाब उन्हें सुनने को मिला- पार्टी मेरी है, जिसे जाना है, वो जाए, मुझे परवाह नही है। अलका लांबा के इस ट्वीट पर फिलहाल आम आदमी पार्टी की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है।

 

दिल्ली के मुख्यमंत्री,पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल जी ने अपने घर पार्टी कार्यकर्ताओं की मीटिंग में चाँदनी चौक विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं के सामने एक विकल्प चुनने का प्रस्ताव रखा,
"अब आप सभी पार्टी और मुझे चुने या फिर विधायक अलका लाम्बा को".
सब वही जो हर बार होता आया है

 

जो ज़मीनी कार्यकर्ता इन चुनोतियों के दौरे में पार्टी को एक और मजबूत देखना चाहते हैं, उन्होंने जब पार्टी मुखिया केजरीवाल जी से सबको पार्टी में वापस जोड़ने की बात रखी तो वही हर बार की तरह घिसा पीटा जवाब उन्हें सुनने को मिला,
"पार्टी मेरी है,जिसे जाना है,वो जाए,मुझे परवाह नही है".

 
 

 

आपको बता दें कि अलका लांबा पिछले काफी समय से पार्टी से कथित तौर पर नाराज चल रही हैं। यह पहली बार नहीं है कि अलका लांबा ने इस तरह से ट्वीट कर अपनी नाराजगी जाहिर की हो, इससे पहले भी वह कई बार ट्वीट कर अरविंद केजरीवाल की आलोचना कर चुकी हैं। दरअसल अलका लांबा और पार्टी के बीच मतभेद की खबरें काफी समय से आ रही थीं। पिछले साल दिसंबर में लांबा ने दावा किया था कि आम आदमी पार्टी ने उनसे पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी से भारत रत्न वापस लेने के कथित प्रस्ताव का विरोध करने को लेकर उससे इस्तीफा मांगा था।

By Pradesh Times Sunday, June 09 19 12:00:00