दर्दनाक हादसाः मुजफ्फरपुर में स्कूल से निकल रहे नौ बच्चों को कार ने रौंदा, सभी की मौत

By Pradesh Times Sunday, February 25 18 12:00:00

दर्दनाक हादसाः मुजफ्फरपुर में स्कूल से निकल रहे नौ बच्चों को कार ने रौंदा, सभी की मौत


 मुजफ्फरपुर मीनापुर मुजफ्फरपुर-सीतामढ़ी एनएच पर मीनापुर के धर्मपुर में सड़क पार कर रहे स्कूली बच्चों को बेलगाम बोलेरो ने रौंद दिया जिसमें नौ बच्चों की मौत हो गई। हादसे में सात बच्चों समेत दस लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। हादसा शनिवार की दोपहर लगभग सवा एक बजे हुआ। धर्मपुर उत्क्रमित मध्य विद्यालय के  बच्चे स्कूल में छुट्टी के बाद एनएच पार करके अपने घर जा रहे थे। इसी बीच सीतामढ़ी की ओर से आ रही बोलेरो बच्चों को रौंदते हुए सड़क से नीचे उतर पेड़ से जा टकराई। हादसे के बाद बोलेरो चालक फरार हो गया। घटना के बाद मौके पर चीख-पुकार मच गई। आसपास के लोग दौड़े और आननफानन में बच्चों को श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज अस्पताल (एसकेएमसीएच) पहुंचाया। एसकेएमसीएच में डॉक्टरों ने नौ बच्चों को मृत घोषित कर दिया और घायलों का इलाज शुरू किया। शव को पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

 

एसकेएमसीएच में हंगामा
एसकेएमसीएच में आक्रोशित परिजनों और ग्रामीणों ने जमकर हंगामा भी किया। उनका आरोप था कि कुछ बच्चे नहीं मिल रहे हैं। हालांकि वहां पर मौजूद पुलिस और जनप्रतिनिधियों ने लोगों को समझाकर शांत कराया। इधर, डीएम धर्मेंद्र सिंह ने मृतकों के परिजनों को सरकारी कोष से चार-चार लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है। फिलहाल एसकेएमसीएच में तनाव बना हुआ है। धर्मपुर गांव के दर्जनों लोग जमे हुए है। मीनापुर विधायक मुन्ना यादव, डीएम धर्मेंद्र सिंह, डीडीसी शैलजा शर्मा, एसएसपी विवेक कुमार, सिटी एसपी उपेंद्रनाथ वर्मा, एसडीओपूर्वी सुनील कुमार के अलावा अन्य प्रशासनिक अधिकारी भी मौके पर कैंप कर रहे है। देर शाम डीएम और एसएसपी धर्मपुर गांव पहुचे और परिजनों से मिलकर मदद का आश्वासन दिया।

धर्मपुर में भी बवाल: घटना के आक्रोशित लोगों ने धर्मपुर में मीनापुर- मुजफ्फरपुर सड़क को जाम कर जमकर हंगामा किया। लोगों ने स्कूल से बेंच और कुर्सियों को निकालकर आग के हवाले कर दिया। घटनास्थल प्रत्यक्षदर्शी दुकानदारों ने बताया कि हादसे में तीन वाहन शामिल थे। पहले एक बेलगाम ट्रक तेजी से निकला। इसी दौरान एक बस भी गुजर रही थी। इस बीच सीतामढ़ी की ओर से आ रही बोलेरो ने ट्रक और बस से बचने की कोशिश में पहले एक महिला को ठोकर मारा। इसके बाद बोलरो चालक ने भागने ने प्रयास किया तथा बच्चों को रौंदते हुए बगल में पेड़ में जा टकराया।

बयान
मीनापुर के धर्मपुर में एक बोलेरो ने बच्चों को ठोकर मार दी है। नौ बच्चों की मौत और 10 जख्मी है। सभी की पहचान हो गई है। मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख का मुआवजा दिया गया है। घायलों को सरकारी स्तर पर इलाज हो रहा है। घटना के वजह की जांच करायी जा रही है।
धर्मेद्र सिंह, डीएम, मुजफ्फरपुर

बोलेरो को मीनापुर पुलिस ने जब्त कर लिया है। डीटीओ कार्यालय की मदद से बोलेरों मालिक व चालक का सत्यापन किया जा रहा है। दोषियों पर पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी।
विवेक कुमार, एसएसपी मुजफ्फरपुर

घटनाक्रम
1.20 बजे बोलेरो ने स्कूली बच्चों को रौंदा
1.40 बजे ऑटो से हादसे के शिकार बच्चों को एसकेएमसीएच लाया गया
1.45 बजे एसकेएमसीएच में चिकित्सकों ने इलाज शुरू किया
1.55 बजे मीनापुर विधायक व धर्मपुर गांव के लोग एसकेएमसीएच पहुंचे
2.00 बजे अहियापुर पुलिस अस्पताल पहुंची
2.05 बजे एसडीओ पूर्वी सुनील कुमार पहुंचे
2.10 बजे डीएसपी पूर्वी गौरव पांडेय पहुंचे
2.15 बजे डीएसपी टाउन कई थानों की पुलिस के साथ एसकेएमसीएच पहुंचे
2.25 बजे डीएम, एसएसपी, सिटी एसपी व अन्य प्रसाशनिक अधिकारी एसकेएमसीएच पहुंचे

मृत बच्चे (एक से पांचवीं कक्षा के बच्चे)
सलमान अंसारी- इस्लाम अंसारी
हेमा खातून-मो. इस्लाम अंसारी
सहनाज खातून-मो. वहीद
साजिदा खातून-मो वहीद
नूसरत खातून- अनवारूल हक
निता कुमारी- इंद्रदेव सहनी
रचना कुमारी-काशी नाथ सहनी
विरजु कुमार- गगन देव सहनी
अनिशा कुमारी-गनौर सहनी

घायल सभी बच्चे (धर्मपुर) के
चुमन कुमार, पिता-इंद्रदेव खातून
चानी खातून, पिता- मो. शाहीद
श्याम कुमार, पिता-सोनेलाल सहनी
अरमान, पिता- फुल मोहम्मद
इरशाद, पिता- फुल मोहम्मद
निराला पिता- राम ईश्वर
अमरजीत कुमार (आंशिक चोट)

By Pradesh Times Sunday, February 25 18 12:00:00